hindi

“यह जीवन दबताने एक भयानक समय है।”

आज हम उस दवचार से हटने का उपवास कर रहे हैं जो कहता है, “्यह जीवन डबतानरे एक भ्यानक स््य है

मैं िँ सा हुआ महसूस कर रहा हूँ।

हम सभी ने कभी न कभी ऐसा सोचा है, परनतु यह एक झूि है। आप दजसमें हैं वहाँ स दनकलने का कोई न कोई माग्त सिा होगा या आपको यदि बाहर रखा गया है तो भीतर जाने का एक माग्त सिैव कहीं न कहीं होगा। 

परमेश्वर उनहें प्रदतिल िे रहा होगा पर मुझे नहीं।

मे रा प्रतिफ ल देनेवाला परमेश्वर है। मैं अपने जीवन और स्थिति के बारे में उसकी सोच को अपनाता हूँ। मैं उस पर अपनी आँखें लगाता हूँ, और वह मेरे विश्वा स को पूर्ण र्ण करता है। और यीशु के नाम से कृपा मुझे घेरे रहती है, पदोन्नति मुझे घेरे है, और परमेश्वर का प्रतिफ ल मुझे घेरे रहते हैं!

मैं अपनी भावनाओं को दनयदनत्त नहीं कर 

परमेश्वर ने हमें सकारातमक और सवसर भावनाओं के सार जीने के दलए बनाया है। वह नकारातमक भावनाएँ हैं जो हमारे जीवन, हमारे समबनिों और हमारे भदवषय को नुकसान पहुँचा सकती हैं। इस दवचार को दमटा िेने की आवशयकता है दक हम अपने दलंग, अपनी संसकृ दत, अपनी जादतयता या अपने वयदतितव के कारण अपनी भावनाओं से “पीदड़त” हैं।

“मैंने षिमा करने का प्रयास दकया, परनतु षिमा 

आज हम उस दवचार से हटने का उपवास कर रहे हैं जो कहता है, “्मैंने क्ष्मा किने का प्र्ास रक्ा, पिन्तु क्ष्मा किने की भावना नहीं आ िही है।”

“मैं अपने को कभी षिमा नहीं कर सकता।”

क्या ऐसा कोई वयदति है दजसने अपने जीवन में कभी ऐसा दवचार नहीं दकया है? रैतान हमें उन बातों के दलए आतम-िोष में रखना चाहेगा जो हमने की हैं या करने में असिल रहे हैं। वह जानता है दक यह हमें पंगु बना िेगा और हमें उस प्रभाव को बनाने से रोके गा दजसकी परमेश्वर ने हमारे दलए मंरा की रा।

“मुझे लगता है दक मैं असिल हूँ।”

आज हम उस दवचार से हटने का उपवास कर रहे हैं जो कहता है, “्ुझरे लगता है डक ्ैं असफल हूँ” या “्ैं पर्रेश्वर करे साथ अपनरे समबनध ्ें, अपनरे जीवन ्ें, अपनरे डवश्वास इत्याडद ्ें असफल हो ग्या हूँ।”

“मेरे पास पया्तप्त नहीं है।”

अदिकांर लोग भोजन का उपवास करने के लाभों को जानते हैं, परनतु गलत सोच से हटने वाला उपवास अब तक एक अप्रयुति खजाना और बल रहा है! जब आप इस अद्ुत यात्ा पर चलते रहेंगे और इस सामरय्त का उपयोग करेंगे, तब आप रूपांतररत हो जाएँगे!