“यह जीवन दबताने एक भयानक समय है।”

आज हम उस दवचार से हटने का उपवास कर रहे हैं जो कहता है, “्यह जीवन डबतानरे एक भ्यानक स््य है”

जब आप संसार के सभी समाचारों को सुनते हैं और उस में होने वाली बुराइयों को देखते हैं – चाहे वह प्ाकृ द्तक आपदाएँ हों, आतंकवाद, युद्ध की अ्वाहें, बीमारी, या द्वपद्ति आद्द हों, तो यह सब आपको बहुत भयानक लग सकता है।

इस संसार में बहुत सारे िर है, परनतु यह आपको या आपके दप्रयजनों को दनयदनत्त नहीं कर सकता!

आइए आज हम इसे बिलें

1. अपनरे अडधकार को जानें। लूका 10:19 में, यीरु ने कहा: “िेखो, मैने तुमहें … रत्ु की सारी सामरय्त पर अदिकार दिया है।” रैतान हमें इिर उिर नहीं घके लता है। हम उसे इिर उिर िके लते हैं! जो कु छ हम पृरवी पर बाँिते हैं वह सवग्त में बँिता है —मत्ती 18:18  आपको कभी उस बात से िर नहीं लगता दजस पर आपका अदिकार है।

2. उपहार करे रूप ्ें शाडनत प्राप्त करें! आज ही इसे सवीकार करें! यीरु ने कहा: मैं तुमहें अपनी रादनत तुमहें दरेता हूँ; जैसे संसार िेता है, मैं तुमहें नहीं िेता- यूहनना 14:27  हम रादनत को प्राप्त करते हैं, पर इस रूप में नहीं मानो वह पररदसरदतयों पर दनभ्तर हो- यह एक उपहार है। इसदलए, हमें िरने की आवशयकता नहीं है।

3. ्यह स्रण रखें डक आपकरे पास क्या है – और आपकरे पास क्या “नहीं” है। 2 तीमुदरयुस 1:7 कहता है, क्योंदक “परमेश्वर ने हमें भय की नहीं पर सा्र्य्त, और प्ररे्, और डसथर ्न की आतमा िी है।”

4. प्रडतडदन “पूव्त-विनों” को अपनी “दवा” करे रूप ्ें लें। भजन 91:10 की एक घँूट ले, जो घोषणा करता है, “इसदलये कोई दवपदत्त तुझ पर न पड़ेगी, न कोई िुःख तेरे िेरे के दनकट आएगा”

5. अय्यूब सरे ड्लनरे वालरे अचछरे स्ािार पर ध्यान दें। अययूब 5:19 कहता है, “वह तुझे छ: दवपदत्तयों से छु ड़ाएगा; वरन सात से भी तेरी कु छ हादन न होने पाएगी।” सात पूण्तता की संखया है। यीरु के लहू के द्ारा परमेश्वर आपकी पूरी तरह से रषिा करेगा!

6. रेम सभी को जीत लेता है। जैसे ही आप अपने मन को आपके प्रति परमेश्वर के प्रे प्रेम से भरते हैं, चाहे आप कि सी भी परिस्थिति िस्थिति में हों, डर आपको छोड़कर चला जाता है।

7. सबसे अन्ध कारमय समय में, परमे मेश्वर अपने सबसे आश्चर्य श्चर्यजनक कार्यों कोप्रकट करता है। अपेक्षा करें कि परमेश्वर आपको दिखाए!

इसे सोचें और इसे कहें

मैं शाडनत के उपहार को सवीकार करता हूँ, और इसदलए मैं परेरान नहीं हूँ। मेरे पास सामरय्त, प्रेम और एक दसरर मन है। रत्ु पर मेरा अदिकार है। कोई भी बुराई या आपिा मुझे नुकसान नहीं पहुँचा सकती। परमेश्वर मेरा उद्धारकता्त है। मैं यीरु के नाम से अपेषिा करता हूँ दक परमेश्वर आज मेरे जीवन में इसे प्रकट करेगा।



Categories: christianity, hindi

Tags: , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: