“मुझे िर लगता है।”

डर हमारे जीवनों में होने वाली प्रत्येक नकारात्मक बात की जड़ है। हम असफल होने से डरते हैं; अकेलेपन या अस्वी कार होडर हमारे जीवनों में होने वाली प्रत्येक नकारात्मक बात की जड़ है। हम असफल होने से डरते हैं; अकेलेपन या अस्वी कार होने का डर; पैसे खत्म होने का डर; यह डर कि लोग हमें नीचा दिखाएँगे; यह डर है कि हमें एक जीवनसाथी नहीं मि लेगा या यह डर कि जो हमें मि ला है वह हमें छोड़ देगा।

सभी तरह के डर इस मुख्य मान्यता में निहि त होते हैं कि परमेश्वर का वचन कार्य नहीं करेगा। उदाहरण के लि ए, पर्या प्त न होने का डर, इस डर में निहि त है कि फिलिप्पि यों 4:19 सत्य नहीं है। यदि यह आप मानते हैं कि “मेरा परमेश्वर भी अपने उस धन के अनुसार मेरी सारी घटी को पूरा करेगा…. ” तो आपका डर आपको छोड़ कर चला जाएगा।ने का डर; पैसे खत्म होने का डर; यह डर कि लोग हमें नीचा दिखाएँगे; यह डर है कि हमें एक जीवनसाथी नहीं मि लेगा या यह डर कि जो हमें मि ला है वह हमें छोड़ देगा।

आइए आज ह् इसरे बदलें

1. इस बात पर डविार करें डक पर्रेश्वर का विन सत्य है। यूहनना 17:17 में, यीरु ने कहा, “तेरा वचन सतय है।” परमेश्वर जो कहता है वह सतय है- चाहे आप इसे महसूस करें, इसे िेखें, या इसका अनुभव करें।

2. पर्रेश्वर करे का्य्त करे अडभलरेख पर डविार करें। 1 राजा 8:56 कहता है, “ प्रतयेक वचन उसकी भली प्रदतज्ा के अनुसार दबना पूरी हुए नहीं रहा   ” (अंग्ेजी का एन एल वी अनुवाि)। जब आप दकसी ऐसी चीज़ पर भरोसा करते हैं, जो असिल नहीं हो सकती, तो िर आपको छोड़ िेता है। परमेश्वर कभी भी अपनी प्रदतज्ाओं को पूरा करने में असिल नहीं हुआ है। बाइबल में 1000 से अदिक भदवषयवादणयाँ की गई हैं – वे प्रदतज्ाएँ जो परमेश्वर ने उनके घदटत होने से पहले की रीं। इनमें से के वल 17 के पूरे होने की संभावना 450 अरब x 1अरब x 1 खरब में से 1 है! तौभी, इनमें से एक भी प्रदतज्ा असिल नहीं हुई।

3. इस सत्य को सवीकार करें डक ह् डजससरे िरतरे हैं वही ह्ाररे साथ हो जाता है। अययूब 3:25 में, अययूब को िर रा दक उसके बचचे परमेश्वर का दिक्कारेंगे, और ऐसा ही हुआ। जब आपको एहसास होता है दक िर में नकारातमक पररणामों को उतपनन करने की सामरय्त है, तो आप उस में सतही रूप से दिलचसपी लेना बनि कर िेते हैं। जब एक बचचा यह सीखता है दक आग क्या कर सकती है, तब वह मादचस की तीदलयों के सार नहीं खेलता!

4. डसद्ध प्ररे् िर को दूर कर दरेता है। (1 यूहनना 4:18) अपने मन को प्रेम के दवचारों से भर िें – दक आपके दलए परमेश्वर का प्रेम क्या है और वह आपको बचाने के दलए क्या कु छ करने को तैयार रा। यदि वह आपके दलए तब मरा जब आप पाप में और परमेश्वर से अलग रे, तो संसार में ऐसी कोई भी चीज़ नहीं है जो वह आपकरे डलए नहीं कररेगा! इस बात पर डविार करें, और िर दूर हो जाएगा।

5. आपकी प्रत्यरेक आवश्यकता करे डलए पर्रेश्वर करे विन ्ें एक प्रडतज्ा है।वासतव में, बाइबल में 7000 से अदिक प्रदतज्ाएँ हैं। इसका अर्त यह है दक जीवन की समसयाओं के दलए 7000 समािान! उिाहरण के दलए, भजन 91:1-12 में सुरषिा की प्रदतज्ा है, जो आपको बुराई, बीमारी या त्ासिी के िर से बचाती है।

6. रुडकए और इस तर्य पर ्नन करें डक पर्रेश्वर आपकरे साथ है। परमेश्वर की उपदसरदत भय-मुति जीवन का रहसय है। अनत में हर प्रकार का भय परमेश्वर की अनुपदसरदत या परमेश्वर से हमारे अलगाव का एहसास है। इसके दवपरीत, परमेश्वर की उपदसरदत का एहसास हमें िर से बचाती है। इब्ादनयों 10:19 कहता है, दक “हम यीरु के लहू के द्ारा उस की उपदसरदत में है।” अब आप उसकी उपदसरदत में हैं – इसदलए, िरे नहीं!

इसे सोचें और इसे कहें

परमेश्वर का वचन सत्य है, चाहे मैं इसे महसूस करूं या न करूं। उन्होंने अपने सभी वादों को निभाया और कभी असफल नहीं हुए। मैं यीशु के रक्त द्वारा भगवान की उपस्थिति में हूँ; इसलिए, क्योंकि वह मेरे साथ है, मुझे कोई बुराई नहीं होगी! भगवान मुझे पूरी तरह से प्यार करता है, सभी डर को बाहर निकालता है। मेरे पास यीशु के नाम में शक्ति, प्रेम और एक अच्छा दिमाग है!



Categories: christianity, hindi

Tags: , , , , , , , , , , , , , ,

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: